Kamini Roy की जिंदगी से जुड़े 22 रोचक तथ्य और जानकारी

Kamini Roy की जिंदगी से जुड़े 22 रोचक तथ्य और जानकारी

कामिनी रॉय महिलाओं को सम्मान का पद देने वाली एक ऐसी हिम्मती महिला थी, जिसे आप लोगों ने शायद ही कही पढ़ा होगा। जब भारत देश अंग्रेजों का गुलाम था। तब इन्होंने अपने जीवन काल मे भारत के लिए खुद को समर्पित भी किया था।
 
कामिनी रॉय एक महिलावादी महिला थी। वह महिलाओं को इंसाफ दिलाने का कार्य करती थी। जब महिलाओ को शिक्षा प्रदान करना वर्जित माना जाता था। तब इन्होंने महिलाओं को शिक्षा का हक़ दिलाने का बीड़ा उठाया था। कामिनी रॉय महिलाओ के अधिकार और हक़ के लिये लड़ने वाली महिलाओं में से एक थी। और आज 12 अक्टूबर 2019 को Google ने कामिनी रॉय का 155वा जन्मदिन मनाने के लिए डूडल बनाकर सम्मान के तौर पर लगाया था। जो कि हमारे भारत और महिलाओं के लिये बहुत गर्व की बात है। तो आज हम महान महिला कामिनी रॉय की जिंदगी से जुड़े कुछ रोचक और अद्भुत तथ्य को जानेंगे।
 
kamini-roy-biography-lifestory-facts-google-doodle-star-kamini-roy-facts-tathya-facthow-fact-how-google-trends-amarujala-amar-ujala-155-birthday-kamini-roy-women-empowerment-first-women-owners-graduate-british-poems-quotes-kamini-roy
KAMINI ROY FACTS
 
1. कामिनी रॉय का जन्म 12 अक्टूबर 1864 में तत्कालीन बंगाल के बाकेरगंज जिला जो कि बांग्लादेश का एक हिस्सा है वहाँ हुआ था।
 
2. कामिनी रॉय महिलाओं के अधिकार के लिए खुद को समर्पित करने वाली ऐसी पहली महिला थी, जिन्होंने भारत के ब्रिटिश (गुलाम) काल में ग्रेजुएशन ओनर्स किया था।
 
3. कामिनी रॉय एक संभ्रांत परिवार में जन्मी थी।
 
4. कामिनी रॉय के भाई नेपाल के मेयर रह चुके थे।
 
5. कामिनी रॉय की बहन नेपाल के एक शाही परिवार में Physician थी।
 
6. जब समाज मे महिलाओं के प्रति कुप्रथाएं होती थी। तब होने महिलाओं के अधिकारों और उनकी पढ़ाई के लिए वकालत भी की थी।
 
7. कामिनी रॉय को बचपन से ही गणित की पढ़ाई में रुचि थी। पर बाद में उन्होंने आगे की पढ़ाई संस्कृत भाषा में की थी।
 
8. कामिनी रॉय ने कोलकाता के बेथुन कॉलेज से बी ए ओनर्स किया था।
 
9. जिस कॉलेज से उन्होंने अपना बी ए ओनर्स पूरा किया था। उसी कॉलेज में वो शिक्षक के पद पर कार्य भी कर चुकी थी।
 
10. कामिनी रॉय अपने जीवन काल मे राष्ट्रवादी आंदोलनों का हिस्सा भी रह चुकी थी।
 
11. कामिनी रॉय ने महिलाओं के हक़ के लिए खुद को पूरी तरह से समर्पित कर दिया था।
 
12. कामिनी एक कवयित्री, समाज सेवक, और शिक्षाविद्द भी थी।
 
13. कामिनी के कॉलेज में उनकी एक छात्रा अबला बोस से मुलाक़ात हुई थी। अबला बोस महिलाओं की शिक्षा और विधवाओं के लिए कार्य किया करती थी।
 
14. अबला बोस से प्रभावित होकर कामिनी रॉय ने भी महिलाओं के अधिकारों के लिए खुद को समर्पित करने का फैसला कर लिया था।
 
15. कामिनी रॉय ने इल्बर्ट बिल का भी समर्थन बड़े जोर शोर से किया था।
 
16. वाइसरॉय लार्ड रिपन के कार्यालय के दौरान 1883 में इल्बर्ट बिल लाया गया था। जिसके तहत भारत के न्यायधिशों को ऐसे मामलों की सुनवाई का अधिकार भी दिया गया था। इसमे यूरोपीय समुदाय भी शामिल हुए थे। और योरोपीय समुदाय ने इसका भी विरोद किया था। लेकिन जो भारतीय थे वह इनके समर्थन का आंदोलन करने लगे थे।
 
17. कामिनी रॉय ने महिलाओं के वोट के अधिकार के लिए एक बहुत लंबा कैंपेन भी चलाया था।
18. सन 1909 में उनके पति केदारनाथ रॉय का देहांत हो गया था।
 
19. पति के देहांत के बाद वह एक बंग महिला समिति से जुड़ी थी। और उन्होंने महिलाओं के मुद्दों के लिए खुदको समर्पित कर दिया था।
 
20. कामिनी रॉय अपनी कविताओं के जरिये महिलाओं में जागरूकता फैलाने का कार्य भी करती थी।
 
21. सन 1926 में उन्होंने महिलाओं को वोट देने का अधिकार भी दिलाया था।
 
22. महिलाओं के लिए खुद को समर्पित करने वाली कामिनी रॉय का सन 1933 में देहांत हो गया था।
 
तो दोस्तो ये थी हमारी देवी जैसी कामिनी रॉय की जिंदगी से जुड़ी रोचक बातें, जिन्होंने खुद को महिलाओं के हक़ के लिए समर्पित कर दिया था। और इनके ऐसे महान कार्य के लिए आज Google भी इनका सम्मान Doodle द्वारा कर रहा है। 
 
उम्मीद करता हूँ आपको इनकी जिंदगी से जुड़ी ये रोचक बाते पसंद आई होगी। पसंद आया तो इसे शेयर जरूर करें।
 
आपका कीमती समय देने के लिए धन्यवाद

Leave a comment